बड़ी खबर: छात्रों को मिली बड़ी राहत, इस बार आईआईटी में एडमिशन लेना हुआ बहुत ही आसान

0
1927

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ने शुक्रवार को कहा कि संयुक्त प्रवेश बोर्ड ने फैसला किया है कि जो अभ्यर्थी जेईई एडवांस को क्लियर करेंगे, वे अपने कक्षा 12 के अंक के बावजूद IIT में प्रवेश के लिए पात्र होंगे। कई बोर्डों द्वारा कक्षा 12 बोर्ड परीक्षाओं को आंशिक रद्द करने के कारण यह निर्णय लिया गया है।

अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर मंत्री ने लिखा, कई बोर्डों द्वारा बारहवीं कक्षा की परीक्षा रद्द करने के कारण, संयुक्त प्रवेश बोर्ड (JAB) ने इस बार JEE (एडवांस) 2020 योग्य उम्मीदवारों के लिए पात्रता मानदंड में ढील देने का फैसला किया है। आमतौर पर, उम्मीदवारों को कक्षा 12 वीं (या समतुल्य) बोर्ड परीक्षा में कम से कम 75% कुल अंक प्राप्त करने होते है या उन्हें अपने संबंधित कक्षा 12 वीं (या समकक्ष) बोर्ड परीक्षा में सफल उम्मीदवारों के शीर्ष 20 प्रतिशत में होने चाहिए।

एससी, एसटी और पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों के लिए कुल अंक कम से कम 65% होता था। इस महीने की शुरुआत में, मानव संसाधन विकास मंत्री ने जेईई मेन और NEET 2020 परीक्षाओं को स्थगित करने के निर्णय की घोषणा की।