आर्टिकल 370 और 35A ख़त्म करने के बाद, मोदी सरकार की एक और तैयारी

0
529

नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड, यूनाइटेड इंडिया एश्योरेंस कंपनी लिमिटेड और ओरिएंटल इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड जल्द ही एकल बीमा इकाई में विलय हो जाएंगे। इस कदम की घोषणा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने पहले बजट 2019-20 के भाषण में की थी, जिसमें गैर-जीवन बीमा कंपनियों के विलय को सक्षम करने के लिए सामान्य बीमा व्यवसाय (राष्ट्रीयकरण) अधिनियम, 1972 में संशोधन करने का प्रस्ताव था।

वित्त और कॉरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री, अनुराग ठाकुर ने हाल ही में लोकसभा को सूचित किया कि तीन सार्वजनिक क्षेत्र की सामान्य बीमा कंपनियों को विलय किया जाएगा।

2018-19 के अपने बजट भाषण में पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा भी इन तीन जनरल इंश्योरेंस कंपनियों के विलय की घोषणा की गई थी। हालाँकि, इस संबंध में आगे कुछ नहीं किया गया था। इन तीन कंपनियों के विलय को लेकर अब वित्त मंत्रालय गंभीर है।