शीला दीक्षित के बेटे ने अपनी मां की अचानक मौत के लिए इस नेता को दोषी ठहराया

0
835

कांग्रेस की अनुशासन समिति पूर्व सांसद और शीला दीक्षित के बेटे संदीप दीक्षित द्वारा दिल्ली इकाई के प्रभारी पीसी चाको के खिलाफ लगाए गए आरोपों पर गौर करेगी, जिसमें पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी इस मामले का जिक्र करेंगी। संदीप दीक्षित ने चाको को एक पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने अपनी मां के आकस्मिक निधन का उस पर आरोप लगाया था। 20 जुलाई को शीला दीक्षित की मृत्यु के तुरंत बाद यह पत्र लिखा गया था।

सूत्रों ने कहा कि चाको ने गांधी को पत्र और उसकी सामग्री के बारे में सूचित किया है। जिसके बाद उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेता एके एंटनी, सुशील कुमार शिंदे और मोतीलाल वोरा की अनुशासन समिति को इस मामले को संदर्भित किया।

चाको ने कहा, मैंने अपनी जानकारी के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया जी को पत्र लिखा है। चाको ने कहा कि उन्हें दो दिन पहले पत्र मिला था और उन्होंने कांग्रेस प्रमुख को सूचित किया था। चाको ने पत्र की सामग्री का खुलासा नहीं किया और कहा कि मामला गांधी के समक्ष है।