चमत्कार: कुछ दिन पहले जिस महिला की हुई कोरोना से मौत, उसने फोन कर कहा- मैं ठीक हूं, मुझे ले जाओ

0
2213

एक रिपोर्ट्स के मुताबिक, इक्वाडोर की एक महिला कोमा से जाग गई और डॉक्टरों से उसकी बहन को फोन करने के लिए कहा जबकि एक महीने पहले डॉक्टरों ने उसके परिवार को बताया था कि वह मर चुकी है। लेकिन अब इसके परिवार वाले आश्चर्य में है कि फिर उन्हें किसकी अर्थी दी गई थी।

स्थानीय समाचार पत्र एल कोमेरियो के अनुसार 74 वर्षीय अल्बा मारुरी को पिछले महीने इक्वाडोर के ग्वायाकिल के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने मारुरी के परिवार को बताया कि उसकी 27 मार्च को मौत हो गई और उन्हें अस्पताल के मुर्दाघर में एक लाश दिखाई गई ताकि वे इसे पहचान सकें।

कोविद-19 फैलने के डर से, अधिकारियों ने परिवार को मृत शरीर से दूर रखा था। एएफपी ने बताया कि उसके भतीजे जयम मोरला ने सोचा कि महिला का शरीर उसकी चाची का है। उसके भतीजे ने बताया, मैं उसका चेहरा देखकर डर गया था। मैं डेढ़ मीटर दूर था। उसके वैसे ही बाल और स्किन टोन थे जैसे मेरी चाची की थी। मारुरी परिवार के खर्च पर महिला के शरीर का अंतिम संस्कार किया गया।

लेकिन वास्तविक मारुरी गुरुवार को अपने कोमा से जाग गई। इसके लिएअधिकारियों को दोषी ठहराया गया ।
इक्वाडोर में कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण 22,000 से अधिक कोरोना मामलो और लगभग 600 मौतों हो गई है।