बीच रास्ते में एम्बुलेंस में ईंधन ख़त्म होने से गर्भवती महिला की मौत

0
694

एक अधिकारी ने बताया कि एक गर्भवती महिला की एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल जाने के दौरान रास्ते में मौत हो गई, क्योंकि उसे ओडिशा के मयूरभंज जिले में एम्बुलेंस में ईंधन ख़त्म हो गई। 23 वर्षीय आदिवासी महिला जो गर्भावस्था के चरण में थी, उसे बांगरीपोसी के एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

हालांकि, वहां के डॉक्टरों ने उसे शुक्रवार रात को बारिपदा के एक अन्य अस्पताल में रेफर कर दिया क्योंकि तुलसी मुंडा की हालत गंभीर बनी हुई थी। ईंधन ख़त्म होने से कुलियाना के पास एम्बुलेंस रुक गई। तुलसी के पति चितरंजन मुंडा ने कहा कि हमें सड़क पर एक घंटे से अधिक इंतजार करना पड़ा, जब तक कि आगे की यात्रा के लिए किसी अन्य वाहन की व्यवस्था नहीं की गई।

महिला के पति ने कहा, अंत में एक और एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई और उसे बारिपदा अस्पताल ले जाया गया। जब तक हम अस्पताल पहुंचे, मेरी पत्नी की मृत्यु हो चुकी थी।