रिलायंस की 43वीं AGM आज: हो सकता है ये बड़ा ऐलान, होगी सबकी नजर

0
2172

मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज 15 जुलाई को शेयरधारकों की पहली आभासी वार्षिक आम बैठक (एजीएम) आयोजित करेगी, क्योंकि कोरोनोवायरस महामारी के मद्देनजर सार्वजनिक सभाएं संभव नहीं हैं। शेयरधारकों को मुकेश अंबानी से बहुत उम्मीदें हैं क्योंकि उन्होंने 42 वें एजीएम में 31 मार्च 2021 से पहले एक साल में वादा किए गए अधिकांश कार्यों को पूरा करने का वादा किया था, जो कि निर्धारित तिथि से नौ महीने पहले हासिल कर लिया गया।

सबकी नजर इन बातों पर रहेगी:
खुदरा व्यापार के लिए भविष्य की योजनाएं: फेसबुक के मैसेजिंग प्लेटफॉर्म व्हाट्सएप के साथ अपनी साझेदारी के बाद निवेशकों को विशेष रूप से अपने खुदरा व्यापार को स्केल करने की अंबानी की योजनाओं के बारे में जानने की उत्सुकता होगी। कंपनी अपने ई-कॉमर्स क्षेत्र, जो कुछ महीने पहले लॉन्च की गई थी, को जिओमार्ट को स्केल करने के लिए मैसेंजर सेवा का लाभ उठाना चाहती है।

जिओ की फाइबर-टू-होम सर्विस, जिसे सितंबर 2019 में लॉन्च किया गया था, ने 20 मिलियन घरों और 15 मिलियन व्यवसायों तक पहुंचने के अपने लक्ष्य की तुलना में फरवरी 2020 तक एक मिलियन से अधिक ग्राहकों का अधिग्रहण किया था। निवेशकों को जिओ फाइबर ग्राहकों के जुड़ाव, राजस्व और कंपनी की योजना को बड़े पैमाने पर अपनाने के लिए उपलब्ध कराने के अपडेट की उम्मीद होगी।

इस सबके अलावा सबकी नजर इस बात पर भी होगी कि जियो प्लेटफॉर्म्स की शेयर बाजार में लिस्टिंग, जियो फाइबर के अगले चरण, 5 जी की शुरुआत और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप जियो मीट के बारे में मुकेश अंबानी क्या अहम ऐलान करते हैं। हाल में अमेरिकी कंपनी क्वालकॉम ने रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स में 730 करोड़ रुपये के निवेश का ऐलान किया है जिससे जियो को 5G प्लान पर आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।